लाल्टू

कविता, कहानी, पत्रकारिता, अनुवाद, नाटक, बाल साहित्य, नवसाक्षर साहित्य आदि विधाओं में सक्रिय।

चार सौ से अधिक मौलिक कविताएँ और तीस कहानियाँ प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में प्रकाशित;

कई समकालीन संग्रहों में रचनाएँ शामिल।

कविता संग्रह

शीर्षक

प्रकाशक

प्रकाशन वर्ष

चुपचाप अट्टहास

नबारुण (नई दिल्ली)

2017

कोई लकीर सच नहीं होती

वाग्देवी (बीकानेर)

2016

नहा कर नहीं लौटा है बुद्ध

वाग्देवी (बीकानेर)

2013

सुंदर लोग और अन्य कविताएँ

वाणी (नई दिल्ली)

2012

लोग ही चुनेंगे रंग

शिल्पायन (नई दिल्ली)

2010

डायरी में तेईस अक्तूबर

रामकृष्ण (विदिशा)

2004

एक झील थी बर्फ की

आधार (पंचकूला)

1991

कहानी संग्रह: घुघनी (अभिषेक:‌1996)

बाल साहित्यः भैया ज़िंदाबाद (बाल कविताएँ 1992);

बांग्ला से अनूदितः अगड़म बगड़म (आबोल ताबोल); ह य व र ल; गोपी गवैया बाघा बजैया;

अंग्रेज़ी से अनूदितः लोग उड़ेंगे; नकलू नडलू बुरे फँसे

नवसाक्षरों के लिएः कविता संग्रह: देश बड़ा कब होता है;

नाटकः भाप ताप और आप

अनुवादः हावर्ड ज़िन की पुस्तक 'A People's History of the United States' के दस अध्यायों का अनुवाद प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में प्रकाशित;

जोसेफ कोनरॉड के उपन्यास 'Heart of Darkness' का अनुवाद – अंधकूप (वाग्देवी: 2015)

रणधीर सिंह की पंजाबी कविताओं का संग्रह 'राहाँ दी धूड़' का अनुवाद – 'राहों की धूल' (अकार 2017)

बांग्ला, पंजाबी, अंग्रेज़ी से कहानियाँ कविताएँ अनूदित - प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में प्रकाशित

पत्रकारिताः हिंदी, पंजाबी और अंग्रेज़ी में कई अखबारों और पत्रिकाओं में समसामयिक विषयों और विज्ञान पर सौ से अधिक आलेख और पुस्तक समीक्षाएँ प्रकाशित;

शिक्षा आदि विषयों पर कई शोध-आलेख पुस्तकों में शामिल।

संपादनः 'हमकलम' (चंडीगढ़) गुट के नौ संग्रहों का संपादन; हरियाणा विज्ञान मंच की मासिक पत्रिका के सलाहकार संपादकों में सम्मिलित

होशंगाबाद विज्ञान पत्रिका

विज्ञान : सैद्धांतिक रसायन (आणविक भौतिकी) में 50 से अधिक शोधपत्र अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं में प्रकाशित; संबंधित जानकारी के लिए देखिए: http://faculty.iiit.ac.in/~laltu

जन्मः 10 दिसंबर1957.

शिक्षाः पी एच डी (रसायन शास्त्र)- प्रिंस्टन विश्वविद्यालय, यू एस ए

एम एस सी (रसायन शास्त्र)- आई आई टी-कानपुर

बी एस सी (रसायन में आनर्स) – कलकत्ता विश्वविद्यालय (प्रेसीडेंसी कालेज)

ब्लागः आइए हाथ उठाएँ हम भी - laltu.blogspot.com

email: laltu10@gmail.com; ph: +919966878063; +914066531304; +914066531934

पत्रिकाओं में प्रकाशित रचनाओं की सूची - लाल्टू


पूरी सूची बना पाना मुश्किल है। बिल्कुल पहले की कुछ रचनाओं का ब्यौरा है, बाद की भी रचनाएँ मिल जाएँगी, पर बीच के दशकों की मिलना मुश्किल है। धीरे-धीरे पूरा कर रहा हूँ।.


पत्रिकाओं में प्रकाशित आलेखों की सूची के लिए देखिए: http://faculty.iiit.ac.in/~laltu/hindi-articles.html

पत्रिकाओं में प्रकाशित कविताओं की सूची के लिए देखिए: http://faculty.iiit.ac.in/~laltu/hindi-poems.html

पत्रिकाओं में प्रकाशित कहानियों की सूची के लिए देखिए: http://faculty.iiit.ac.in/~laltu/hindi-stories.html

पत्रिकाओं में प्रकाशित अनुवाद के काम की सूची के लिए देखिए: http://faculty.iiit.ac.in/~laltu/hindi-translations.html


मेरे लेखन पर आलोचना/टिप्पणियाँ

संजय गौतम: 'अंधकूप' की समीक्षा: (सामयिक वार्ता: जुलाई 2015)

स्मृतिरेखा: मेरे ब्लॉग लेखन पर एम फिल डिग्री के लिए शोध – हैदराबाद विश्वविद्यालय 2015

दुर्गा प्रसाद गुप्त: 'सुंदर लोग और अन्य कविताएँ' की समीक्षा: (संवेद-66: जुलाई 2013)

सरोजिनी : मेरी कहानियों पर एम फिल डिग्री के लिए शोध – हैदराबाद विश्वविद्यालय 2013

शिरीष कुमार मौर्य: कविता, विज्ञान, सृजन और प्यार से बना एक संसार (पहल: दिसंबर 2013)

अनिरुद्ध उमट: कविता का प्रतिरोध ('अन्य का अभिज्ञाान, सूर्य प्रकाशन मंदिर, 2012)

अनिरुद्ध उमट: प्रतिरोध की कविता (जनसत्ता 2010)

पंकज सिंह: डायरी में तेईस अक्तूबर कविता संग्रह की समीक्षा (इंडिया टुडे: 28 सितंबर 2005)

प्रसून प्रसाद: 'डायरी में तेईस अक्तूबर' कविता संग्रह की समीक्षा (पश्यंती: 2005)

मनोज शर्मा: 'डायरी में तेईस अक्तूबर' कविता संग्रह की समीक्षा (नाबार्ड पत्रिका: जनवरी-मार्च2005)

सारिका शर्मा - In the Laboratory of emotions (Hindustan Times – Chandigarh; 3.09.11))

नोनिका सिंहPoetry that takes sides...but subtly (Hindustan Times – Chandigarh; 16.11.00)

तरसेम गुजराल: घुघनी: समीक्षा (पंजाब केसरी: 1997)

नंद भारद्वाज: घुघनी: अन्तर्विरोधों की दिलचस्प बयानी (रविवारी पत्रिका: 20 अप्रैल 1997)


मेरी रचनाओं के दूसरी भाषाओं में अनुवाद:


पंजाबी: 2014: नवां ज़माना, अक्खर

अंग्रेज़ी: 2012: प्रतिलिपि में मोनिका मोदी के 7 कविताओं के अनुवाद

तेलेगु: 'घुघनी' संग्रह की सभी कहानियों के अनुवाद तेलेगु में हो चुके हैं (अनुवादक – आर एस सर्राजु) । इनमें से कुछ 'ईनाडु' पत्रिका में प्रकाशित हुए हैं।

2016: अनूदित कहानी संग्रह 'तिरुगु प्रयाणम', मिलिंद प्रकाशन, हैदराबाद